दिसंबर और जनवरी में लगाये  जाने वाले सब्जियाँ  

sardiyo ki sabji

सर्दी की सब्जी Sardiyo ki Sabji | दिसंबर और जनवरी में लगाये  जाने वाले सब्जियाँ

आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको उन सब्जियों का नाम बताएंगे जिसे दिसंबर और जनवरी में अपने गार्डन में लगाना चाहिए आपको इस महीने में कौन कौन से सब्जी vegetable  लगाना चाहिए चलिए जानते है दिसंबर और जनवरी में कौन सी सब्जी हमे अपने गार्डन में लगाना चाहिए

1. बैंगन (Brinjal) :- बैंगन भारत में आलू के दूसरी सबसे उपयोग होने वाली सब्जी है अगर इसकी लोकप्रियता की बात करे तो शायद यह दूसरे स्थान पे आएगा इसे एग्गप्लान्ट के नाम से भी जानते है बैंगन को आसानी से उगाया जा सकता है इसमें ज्यादा पौष्टिक तत्व नहीं होते है पर ये स्वाद में अच्छे होने के कारण इसे हमारे देश में बहुत पसंद किया जाता है इसकी बहुत सी वैरायटी पाई जाती है इसमें हरे बैंगन को डॉयबिटीज वाले लोग के खाने के लिए अच्छा माना जाता है |

  • बैंगन को 10 इंच के गमले में आसानी से लगाया जा सकता है |
  • बैंगन को गार्डन में उगाने के लिए कोशिश करें कि 10 इंच के गमले का प्रयोग करें गमले में ध्यान देने वाली एक बात यह भी याद रखें कि इसके लिए हमेशा बड़े गमले का चुनाव करें और जिस भी गमले का चुनाव आप कर रहे हैं उसमें पानी के ड्रेनेज सिस्टम के लिए होल बना हो | 
  • बैंगन को जिस भी गमले में लगा रहे हैं उस गमले की गुड़ाई शुरू के 10 दिनों में जरूर कर ले | 
  •  गुड़ाई करने के बाद उस मिट्टी में आप वर्मी कम्पोस्ट का प्रयोग करे अगर आप का गमला 10 से 15 इंच का है तो 200 ग्राम गोबर खाद का उपयोग कर ले | 

इसके पौधे को रेगुलर वाटरिंग की जरुरत होती है इसे 10 से 12 इंच के गमलों में आसानी से उगाया जा सकता है इसमें अच्छी क्वालिटी की खाद डालने से फलन ज्यादा होता है |

यह जाड़े की बहुत खास सब्जी होती है जिसे आम तौर पर लोग पसंद करते हैं इसे लगाने के लिए ज्यादा स्पेस की आवश्यकता नहीं होती है तथा इसके पेड़ में अगर कीड़े लग गए हो तो कीटनाशक का उपयोग करना चाहिए इसके लिए आप आल इंसेक्ट्स कीलर स्प्रे का उपयोग कर सकते है |

2. मिर्च (Chilli) :- दिसंबर और जनवरी में लगाये  जाने वाले सब्जियाँ  मिर्च को रखा गया है  मिर्च को लगाने के लिए काफी धुप की आवशकता नहीं होती है | इसे आप आसानी से गुमले में लगा सकते है 

इसे लगाने के लिए ज्यादा धूप की आवश्यकता होती है इस मौसम में आप मिर्च की और प्रजाति को लगा सकते है  इसमें सूरज मुखी मिर्च, शिमला मिर्च एवं मिर्च के सभी वैरायटी को उगाया जा सकता हैं

इसे 8 से 10 इंच के गमले में लगाया जा सकता है जिसमें बहुत से मिर्च उग सकते हैं मिर्च बहुत से किस्मों के तथा अलग-अलग रंगों के होते हैं

इसके पेड़ो में कीटों का प्रभाव बहुत जल्दी होता है इसलिए मिली बग पेट्स किलर या ऑल इंसेक्ट किलर स्प्रे का उपयोग किया जाना चाहिए तथा इसके पेड़ में हर 2 हफ्ते में खाद देने की आवश्यकता होती है तभी इसमें लगातार मिर्च खिलते है |

3.टमाटर (Tomato) :- इस मासूम में आप टमाटर को अपने गार्डन में लगा सकते है  इसे आप आसानी से बीजो के द्वारा उगाया जा सकता है  टमाटर के किस्मों में पंजाब छुआरा काफी प्रचलन में है जिसे लगाने के लिए ज्यादा धुप एवं कम पानी की आवश्यकता होती है इसके पेड़ो में मिली बग तथा पेट्स जल्दी अटैक करते है इसलिए अगर आप इसे लगा रहे है तो आप आल इन्सेक्ट किलर स्प्रे भी जरुर रखे

4. फूल गोभी (Cauliflower) :- आप दिसम्बर में फूल गोभी के बीज भी उगा सकते है नर्सरी में आसानी से इसके पौधे मिल जाते है और इसके बीज से भी इसे लगाया जा सकता है इसके बीज दिखने में सरसों के दाने जैसे होते है

जब इसका पौधा 2 से 3 इंच का हो जाये तो आप इसे 10 से 12 इंच के गमले में ट्रान्सफर कर सकते है | इसके पौधे में आप रिच कम्पोस्ट साइल का युस करे जिससे इनमे बड़े आकार के फूल मिलेंगे|

5. नेनुआ (Sponge Gourd) :- Sponge Gourd जिसे नेनुआ व तुरई भी कहा जाता है इसकी वाइन होती है जिसे आप अभी के समय में आसानी से लगा सकते है आप इसे 10 इंच के पॉट में उगा सकते है जब इसका साइज़ बढ़ जाये तो आप इसे 12 से 15 इंच के गमले में ट्रान्सफर कर सकते है इसके पौधे में गोबर की खाद व उन्नत किस्म के बीज का भी उपयोग करे |

नेनुआ की फूल व कलियों का इस्तेमाल खाने में किया जाता है और मेल फ्लावर तथा पत्तियों का युस सब्जी बनाने में चटनी बनाने में भी किया जाता है | यह एक हेल्थी वेजिटेबल है इसकी बेल फैलती है इसलिए इसे बालकनी व टैरेस में लगाये |

 

 

6. भिन्डी (Lady Finger)  :-  इस समय भिन्डी के भी बीज लगा सकते है इसे आप 9 से 10 इंच के पॉट में लगा सकते है यह ध्यान रखे की एक गमले में केवल 2 से 3 भिन्डी के बीज डाले इससे पौधे अच्छे से ग्रो करेंगे जिससे आप एक गमले से हर दिन 4 से 5 भिन्डी तोड़ सकेंगे |

आप इसे लगाने के लिए हाइब्रिड बीज का भी युस कर सकते है जिससे इसके पौधे काफी अच्छे तरीके से बढ़ेंगे इसे धुप में रखे इसके फूल देखने में भी काफी आकर्षित होते है |

 

7. झींगी ( Ridge Gourd):- Ridge Gourd जिसे झींगी भी कहा जाता है  इसकी भी वाइन होती है जिसे आप 12 से 15 इंच के गमले में लगा सकते है इसे लगाने के लिए आप हाइब्रिड सीड का इस्तेमाल करे जिससे इसकी फलन ज्यादा होगी यह छोटे वाइन में और बहुत ज्यादा गुच्छे में खिलेंगे |

आप एक गमले में 3 से 4 सीड ही डाले और जिस पॉट का आप इस्तेमाल करेंगे वह वेल ड्रेन होने चाहिए गमले में अच्छी कम्पोस्ट डाले यह ध्यान रखे की पानी जमा ना हो पाए

 

8. पत्तेदार सब्जियाँ (Leafy Vegetables) :- आप इस समय हरी भरी पत्तेदार सब्जियाँ भी उगा सकते है आप इस समय मेथी साग लगा सकते है इसे लगाने के लिए आप साबुत मेथी दाने को पानी में भिगाकर 2 दिन के लिए रख दे और जब यह अंकुरित हो जाये तो इसके बीज को गमले में डालकर लगा सकते है एक व दो हफ्ते के बाद इसमें मेथी के छोटे छोटे पत्ते उग जायेंगे मेथी के पत्ते सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होते है |

 

9. कैले (Kale)  :- पत्तेदार सब्जियों में आप कैले भी लगा सकते है यह दो प्रकार के है जिसमे ओरनामेंटल तथा खाने योग्य कैले शामिल है आमतौर पर आप इन दोनों को ही लगा सकते है आप इसके छोटे छोटे बीजो को 8 से 10 इंच के गमले में लगा सकते है |

 

 

10. पालक और सरसों (Spinach & Mustard)  :- दिसंबर और जनवरी के महीने में पंजाबी लोग ज्यादातर सरसों का साग खाना पसंद करते हैं एक तरह से वहां का सबसे प्रसिद्ध भोजन मक्के की रोटी और सरसों का साग है सरसों का साग आप बहुत आसानी से आप अपने घर के गार्डन में लगा सकते हैं | हम अगर नॉर्थ इंडिया की बात करें तो यहां पर आपको पालक की भाजी या पालक का साग इस मौसम में बहुत आसानी से मिल जाता है और आप इसे आसान तरीके से अपने गार्डन में भी लगा सकते हैं नॉर्थ इंडियन साइड में पालक पनीर काफी प्रचलित सब्जी है आप इसे अपने गार्डन में दिसंबर और जनवरी के महीनों में आराम से इसको सीड के माध्यम से उगाया जा सकता है अगर आपके इलाके में ठंड का मौसम शुरू हो चुका है और आपके घर में किसी भी कोने में अच्छी धूप आती है तो आप खुद यह साग उगा सकते हैं।

आप पालक और सरसों के दाने से सरसों का पौधा भी लगा सकते हैं जिसे आप माइक्रो ग्रीन तौर पर खाने में और सरसों के पत्ते से सरसों की भाजी व साग भी बना सकते है |

 

 

11. मटर (Peas) :- मटर के बीज से आप मटर का पेड़ लगा सकते है इसमें भी वाइन होते है जिसका फलन गुच्छो में होता है इसमें बहुत सारे मटर की फलिया खिलते है तथा फूल दिखने में भी काफी सुन्दर होते है |

घर में लगी वाइन में जो मटर लगे होते है उसका स्वाद बाजार में मिलने वाले मटर से काफी मीठा होता है |

12. लौकी (Bottle Gourd) :- आप इस समय लौकी भी लगा सकते है आमतौर पर लौकी 2 प्रकार के होते है एक लम्बे होते है और एक गोल होते है आप दोनों को ही लगा सकते है | इसे आप लौकी के बीज से लगा सकते है | इसे आप बड़े गमले पर लगाये जिससे की यह ज्यादा मात्रा में फले |

13. करेला (Bitter Gourd) :- इसके अलावा आप करेले का भी पौधा लगा सकते है इसके बीजो से आप करेले को लगा सकते है इसके पौधे के लिए आप अच्छी खाद का उपयोग करे जिससे की ये ज्यादा खिलेंगे एवं कीटो से बचाव के लिए अच्छे कीटनाशक का उपयोग करे |

 

 

 

14  ब्रोकली (Broccoli) :- आमतौर पर यह देखा जाता है कि सर्दियों के मौसम में पत्तेदार सब्जियों का उत्पाद हमारे यहां बहुतायत में होता है उसी की एक सब्जी है जिसको बहुत ही आसानी से आप गमले या ग्रो बैग में आसानी से लगा सकते हैं और अगर इसकी प्रजाति की बात की जाए तो यह गोभी से मिलता-जुलता ही है इसे हम ब्रोकली कहते हैं जिसे आप घर के गार्डन में बहुत ही आसानी से दिसंबर और जनवरी के महीने में आप उगा सकते हैं ब्रोकली कैसे होता  है इसके लिए किसी और आर्टिकल में बताएँगे यहाँ जितनी भी सब्जियों का जिक्र किया गया है उसे वन बाय वन अलग आर्टिकल के माध्यम से लिखा जाएगा | 

 

 

15 चुकंदर (Beetroot) :- चुकंदर को घर में बहुत आसानी से उगाया जा सकता है और इसे उगाने के लिए सबसे अच्छा मौसम दिसंबर से जनवरी के बीच में माना जाता है अर्थात सर्दियों के मौसम में इसे उगाया जा सकता है इसे हम बीटरूट के भी नाम से जानते हैं यह खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है ज्यादातर लोग इसे सलाद के रूप में यूज़ करना पसंद करते हैं कुछ लोग इसे जूस के रूप में भी यूज़ करते हैं इसमें विटामिन और फाइबर विटामिन ए विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है तो इसे सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद माना गया है तो आप इस मौसम में बीटरूट को गमले में आसानी से लगा सकते हैं | 

16  मूली (Radish) :- ठंड का सीजन शुरू होते ही आपको मूली की रोटी खाने की बहुत इच्छा होती है मूली का ज्यादातर उपयोग सलाद के रूप में किया जाता है मूली को आप बहुत आसानी से अपने गमलों में लगा सकते हैं और दिसंबर और जनवरी के बीच इसे लगाना सही माना जाता है मूली के बहुत सारे फायदे हैं आज हम यहां पर फायदे की बात नहीं कर रहे हैं क्योंकि आज हम आपको यह बता रहे हैं कि दिसंबर और जनवरी के महीने में आप कौन-कौन सी सब्जियां अपने बगीचे में लगाएं तो किसी और आर्टिकल में हम मूली की विशेषताओं के बारे में उसे लगाने के बारे में और उसकी देखरेख के बारे में किसी और ब्लॉग में बात करेंगे यहां पर सिर्फ हम आपको यह बताना चाह रहे हैं कि दिसंबर और जनवरी के महीने में मूली को अगर आप लगाते हैं तो यह बहुत ही अच्छा माना जाता है और मूली का ज्यादातर उपयोग लोग सलाद के रूप में करते हैं अगर हम बात करें तो मूली भर के रोटी लोगों को बहुत पसंद आती है और उसके साथ अगर आप धनिया पत्ता का चटनी भी डालते हैं तो वह बहुत स्वादिष्ट होता है आप दिसंबर से जनवरी के बीच धनिया पत्ता भी अपने गार्डन में लगा सकते हैं | 

 

 

17 आलू (Potato) :- अगर आलू की बात करें तो बिना आलू के किसी भी सब्जी की आप कल्पना नहीं कर सकते अगर आप मटर की सब्जी बना रहे हैं तो मटर के साथ आलू आप उस सब्जी में डालते हैं तो उसका स्वाद ही कुछ अलग होता है आलू का अपना कोई स्वाद नहीं है वह जिस भी सब्जी और जिस भी  मसाले के साथ मिल जाए वह उसी में ढल जाता है तो दिसंबर और जनवरी में आलू खाने का मजा ही कुछ और है तो आप कोशिश यह करे कि दिसंबर से पहले ही आप इसे अपने गार्डन में बहुत आसानी से लगा सकते हैं आप इसे किसी ग्रो बैग में क्यारियाँ बना कर भी लगाया जा सकता है इसके लिए आपको  स्क्वायर शेप का ग्रो बैग  पसंद कर ले और उसके अंदर आप आसानी से आलू को उगा सकते हैं | 

 

18 सलाद (Lettuce) :-लेट्यूस दिखने में बंधा गोभी के जैसा होता है इसका ज्यादातर प्रयोग सलाद के रूप में किया जाता है और यह हाल ही में काफी पसंदीदा सब्जियों में शुमार होते जा रहे हैं जैसे आपने देखा होगा की आज लोग हेल्दी रहना चाहते हैं तो वह सलाद खाना ज्यादा पसंद करते हैं  इसके पत्तियों का यूज़ ज्यादातर सलाद में किया जाता है आप बर्गर के अंदर जो पत्तियां देखते हैं वह लेट्यूस की ही होती है आप इसे किचन गार्डन में बहुत आसानी से उगा सकते हैं इसमें पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होती है इसे बीज के माध्यम से उगाया जाता है और उनके बीज आसानी से किसी भी गार्डन स्टोर से खरीद सकते हैं  | 

 

 

19 गाजर Carrot:- गाजर खाना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है क्योंकि इसके अंदर बहुत सारे विटामिन फाइबर पोटेशियम आयरन मैग्नीशियम भरपुर मात्रा में पाए जाते हैं लोगों का कहना है कि गाजर खाने से आंख की रोशनी मैं सुधार होता है आज जितने लोग हेल्थ कॉन्शियस होते जा रहे हैं वह सलाद खाना पसंद करते हैं तो सलाद में लोग गाजर का यूज बहुत ज्यादा ही करते हैं गाजर काफी लाभदायक है और इसे बहुत ही आसान तरीके से हम ग्रो बैग्स में उगा सकते हैं और इसके बीच से ही उगाया जाता है तो आप नजदीकी स्टोर में गाजर के बीज खरीद के ग्रो बैग में आसानी से लगा सकते हैं | 

 

 

20 शिमला मिर्च (Capsicum) :- शिमला मिर्च एक तरह की सब्जी है और अगर बात करें तो यह मिर्च की ही एक प्रजाति है लेकिन यह मिर्च से थोड़ी अलग होती है और इसका स्वाद काफी अच्छा होता है लोग इसे मीठी-मीठी या बेल पेपर के भी नाम से जानते हैं ज्यादातर जगह पर यह ग्रीन कलर में ही आपको मिलेगा लेकिन यह रेड और येलो कलर में भी मिलते हैं और इनका स्वाद ग्रीन कलर से थोड़ा अलग होता है शिमला मिर्च के बहुत से फायदे हैं कहा जाता है कि पीठ का दर्द, त्वचा, स्वास्थ, पेट के अल्सर, हृदय रोग और डायबिटीज पेशेंट के लिए इनका सेवन फायदेमंद होता है कोशिश हमेशा यह करें कि किचन गार्डन में जो भी सब्जियां लगाएं उसको ऑर्गेनिक तरीके से ही करें तभी वह सेहत के लिए फायदेमंद होगा |

Sardiyo ki Sabji इस लेख के माध्यम से हम आपको यह बताना चाह रहे हैं कि दिसंबर और जनवरी के बीच में आप कितनी तरह की सब्जियों के  ग्रुप को  आप अपने किचन गार्डन टेरेस गार्डन रूफ गार्डन में बहुत ही आसान तरीके से ग्रो कर सकते हैं उन्हीं सब्जियों का जिक्र हमने इसमें किया है हम आपसे अनुरोध करते हैं कि सब्जियों को जब भी उगाए ऑर्गेनिक तरीके से ही उगाये जिससे यह स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होगा | 

 

 

और टॉपिक के लिए

तुलसी पौधे से जुड़ी मुख्य बातों को जरूर जान लें इसे लगाने से पहले | Basil Leaf In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *